गर्भावस्था की संपूर्ण जानकारी – pregnancy tips in Hindi month by month 2022

( pregnancy tips in Hindi month by month 2022 ) दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम महीने दर महीने गर्भावस्था की संपूर्ण जानकारी आपको देने वाले हैं, इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि क्या क्या बदलाव देखने को मिलते हैं। और आपको क्या क्या बातें ध्यान में रखनी चाहिए, आते आपको करो अवस्था के दौरान पिंकी बातों को अपने ध्यान में रखकर कार्य करना चाहिए। और अपने स्वास्थ्य पर किस प्रकार से ख्याल रखना चाहिए, यह सभी बातें हम आपको आज के इस आर्टिकल में बताएंगे।

गर्भावस्था की संपूर्ण जानकारी – pregnancy tips in Hindi month by month 2022

क्योंकि गर्भावस्था के समय अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखना काफी ज्यादा महत्वपूर्ण हो जाता है, क्योंकि आपके शरीर में कुछ नहीं लक्षण में बदलाव आते हैं, दिल से आपके शरीर को कमजोरी महसूस हो सकती है। और इससे बचने के लिए आपको नीचे दिए गए उपाय को ध्यान पूर्वक पढ़ना है, तो चलिए जानते हैं pregnancy tips in hindi month by month.

प्रेगनेंसी का पहला महीना 

सबसे पहले हम इस बारे में बात कर लेते हैं, कि आपको प्रेगनेंसी के पहले महीने में क्या क्या बदलाव देखने को मिल सकते हैं।

शरीर में क्या क्या बदलाव हो सकते हैं।

गर्भावस्था के पहले महीने में हमें नीचे दिए गए कुछ बदलाव देखने को मिल सकते हैं।

पीरियड का बंद हो जाना

प्रेगनेंसी के शुरुआती लक्षण क्या कर बात करें तो मानसिक धर्म का रुक जाना यह सबसे सामान्य लक्षण है, जो कि अधिकतर देखने को मिलता है।

वजन में बदलाव

गर्भावस्था के दौरान महिला के भजन में बदलाव शुरुआती दिनों से ही देखने को मिल सकता है, इसमें आपका वजन कम तथा ज्यादा हो सकता है।

वेट लॉस टिप्स – Best Weight Loss Tips in Hindi

थकान

शुरुआती दौर में जब महिला गर्भवती होती है, तो उन्हें थकान की बहुत ज्यादा शिकायत रहती हैं, अर्थात वह बिना किसी काम किए भी अपने आपको थका हुआ महसूस करती हैं।

सीने में जलन

बहुत से महिलाओं के गर्भावस्था के दौरान सीने में जलन और एसिडिटी जैसी शिकायत भी सामने आते हैं, तो यह भी एक लक्षण की तरह देखा जा सकता है गर्भावस्था की शुरुआत का।

गर्भावस्था के पहले महीने में किन-किन बातों का ख्याल रखना चाहिए

  1. सबसे पहले आपको किसी पास के ही हॉस्पिटल और डॉक्टर का चुनाव करना होगा जहां पर आप अपने गर्भावस्था के दौरान पूरा रूटीन चेकअप करवाने में सक्षम है, यह चुनाव करना महत्वपूर्ण है।
  2.  धूम्रपान और शराब के सेवन से दूर रहें यदि आपको इसकी लत है तो भी आपको इससे दूर रहने की कोशिश करनी चाहिए।
  3. चाय और कॉफी के सेवन से भी जितना हो सके उतना दूर रहें इन पर कंट्रोल करने की कोशिश करें।
  4. अपने आहार पर ध्यान दें ज्यादा से ज्यादा पोषक तत्व युक्त आहार का सेवन करें।
  5. ज्यादा से ज्यादा आराम करने की कोशिश करें।

प्रेगनेंसी का दूसरा महीना

प्रेगनेंसी के कुछ दूसरे महीने में होने वाले कुछ बदलाव इस प्रकार है।

प्रेगनेंसी के दूसरे महीने में होने वाले बदलाव

  1. गंध और स्वाद में बदलाव होने लग जाता है।
  2. गर्भाशय का आकार मैं बदलाव होने लग जाता है, गर्भाशय का आकर थोड़ा बढ़ जाता है यह आकार इसलिए बढ़ता है, क्योंकि गर्भ में पल रहे भ्रूण का विकास होता है और अब जब गर्भाशय का आकार बढ़ जाएगा तो इसका आकार बढ़ने के कारण मथुरा से पर दबाव थोड़ा ज्यादा बढ़ेगा इसलिए आपको बार-बार बाथरूम जाने की जरूरत पड़ सकती है।
  3. आपको सिर दर्द जैसी समस्याओं और थोड़ा तनाव जैसी समस्याओं का सामना भी करना पड़ सकता है यह परेशानियां पहले महीने की तरह ही हो सकती है ध्यान दें गर्भाशय के दौरान बिना डॉक्टर के तला लिए किसी भी प्रकार की दवाइयों का सेवन ना करें।

ध्यान रखने योग्य बातें

  1. डॉक्टर के पास नियमित रूप से चेकअप करवाएं।
  2. और डॉक्टर की सलाह के अनुसार हल्के-फुल्के व्यायाम करें। 
  3. आप अपने खान-पान पर ध्यान दें एक बार में ज्यादा खाने से अच्छा यह होगा कि आप थोड़ी थोड़ी देर में हल्का फुल्का खाते रहें।
  4. अगर डॉक्टर ने आपको कोई चार डाइट चार्ट बताया है तो आपको उसको ऑफिस से फॉलो करना चाहिए।

गर्भावस्था का तीसरा महीना

दोस्ती के तीसरे महीने में होने वाले बदलाव तथा को किन बातों का ध्यान रखना चाहिए यह नीचे दिए गए हैं, इन्हें आप अवश्य ध्यान में रखें।

इस दौरान शरीर में होने वाले बदलाव

  1. जी मचलना अर्थात कुछ महिलाओं को पूरी प्रेगनेंसी के दौरान यह समस्या हो सकती है। और कुछ महिला को केवल पहली तिमाही में यह समस्या देखने को मिलती है। तो आपको अगर ऐसी कोई समस्या का सामना करना पड़े तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।
  2. नाक और मसूड़ों से खून आना इंग्लिश भी हमेशा देखने को मिल सकती है और ना कोई मसूड़ों में सूजन आने की समस्या भी हो सकती है अगर ऐसा आपको लक्षण नजर आए तो डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।

गर्भावस्था के पहले तिमाही की बात तो हमने विस्तार में कर ली है इसी प्रकार हम दूसरे दिमाग के बाद एक साथ करने वाले हैं तो आइए जानते हैं कि हमें गर्भावस्था की दूसरी तिमाही में कौन-कौन सी टिप्स को ध्यान में रखना चाहिए।

गर्भावस्था की दूसरी तिमाही ध्यान रखने योग्य टिप्स

  • गर्भावस्था के दूसरी तिमाही अर्थात चौथे महीने से लेकर छठे महीने के समाप्त होने तक आपको नीचे दी गई थी उस को ध्यान में रखना चाहिए।
  • आप को नियमित रूप से डॉक्टर से सलाह लेते रहना चाहिए और अपना चेकअप करवाते रहना चाहिए।
  • डॉक्टर के द्वारा बताए गए थे शाम को नियमित रूप से करना चाहिए और ज्यादा कठिन व्यायाम से दूर रहे।
  • आराम से कपड़ों की खरीदारी शुरू कर दें और जितना हो सके आरामदायक कपड़े ही पहनें।
  • अपने पेट के बल लेटने से आपको बचना चाहिए ज्यादा देर पीठ के बल ना लेटे।
  • प्रेगनेंसी के दौरान अपने दांतो की भी देखभाल करें।

गर्भावस्था की तीसरी तिमाही में ध्यान रखने योग्य टिप्स

  • पानी का अच्छी मात्रा में सेवन करें और अपने शरीर को हाइड्रेटेड रखें।
  • जैसे-जैसे आप का शिशु बढ़ता जाता है आपके अंग सिकुड़ते जाते हैं और ऊपर की ओर खींचते चले जाते हैं इसलिए आपको बहुत से साइड इफेक्ट देखने को मिल सकते हैं इससे निपटने के लिए आपको दिन के दौरान में आपको हल्का-फुल्का ही भोजन करने की कोशिश करनी चाहिए।
  • एक ही बार में ज्यादा खाने से अच्छा होगा कि आप कुछ समय पश्चात थोड़ा-थोड़ा करके खाते रहे।
  • नियमित रूप से डॉक्टर की सलाह लेते रहें और डिलीवरी की पूरी प्रक्रिया की जान ले।

1 thought on “गर्भावस्था की संपूर्ण जानकारी – pregnancy tips in Hindi month by month 2022”

Leave a Comment